वरिष्ठ डॉक्टर समेत अब तीन संदिग्ध मरीज आइसोलेशन में, सभी स्थिर

कानून के डर से अब सिविल अस्पताल के ट्रामा वार्ड में लगातार एनआरआईज पहुंच रहे हैं

रवि रौणखर, जालंधर
7696310022

सिविल अस्पताल के आइसोलेशन वार्ड में रविवार को एक वरिष्ठ डॉक्टर को सांस में तक्लीफ के चलते दाखिल कर लिया गया। अब सिविल में दो और पटेल अस्पताल में एक संदिग्ध मरीज आइसोलेशन में रखा गया है। तीनों स्थिर हैं। जालंधर में अभी तक एक भी मरीज पॉजीटिव नहीं आया है।

जैसे जैसे मामले बढ़ रहे हैं सरकार भी सख्त होती जा रही है

एनआरआई और विदेश यात्रा करके लौटे लोग अब सिविल अस्पताल धीरे धीरे पहुंचने लगे हैं। सरकार की सख्ती और कोरोना का भय उन्हें अब छिपने नहीं दे रहा। अस्पताल का स्टाफ और डॉक्टर भी हाथ जोड़कर विनती कर रहे हैं कि प्लीज भागो मत।

Corona Flu corner Jalandhar Dr
डॉ. नवनीत कौर और डॉ. इंदु बाला। डॉक्टर बार बार कह रहे हैं कि बिना वजह घर के बाहर न निकलो।

रविवार को भी सिविल में 100 के करीब लोगों ने अपना चैकअप कराया। बहुत सारे मरीज ऐसे भी थे जिनकी कोई भी ट्रैवल हिस्ट्री नहीं थी। उन्हें हल्का जुकाम और सिरदर्द था। मगर दो मरीज ऐसे थे जिन्हें शक के आधार पर दाखिल कर लिया गया है। दोनों मरीज बुजुर्ग हैं। उनमें से एक डॉक्टर है। अर्बन एस्टेट में रहने वाले डॉक्टर साहब हालांकि पिछले 14 दिनों से भारत में ही थे। अब सिविल में कुल तीन मरीज आइसोलेशन वार्ड में हैं। इनमें से एक महिला भी है जो 21 दिन पहले भारत आई थी। हालांकि परिवार डॉक्टरों के कहे अनुसार ही चल रहा है।

करियाना की दुकान चलाने वाले को 7 दिन एकांत की सलाह, बोला दुविधा में हूं

बस्ती मिठु में करियाना शॉप चलाने वाले युवक को हल्का बुखार, जुकाम और सिर दर्द है। ट्रॉमा सेंटर में डॉक्टरों ने चैकअप किया और 7 दिन के लिए कवैरन्टीन में जाने के लिए कहा। वह दुविधा में था। उसने बताया कि जब से यह हालात बने हैं मुझे सुबह 5 से रात 12 बजे तक दुकान खोलनी पड़ रही है। मेरे इलाके के लोग गरीब हैं।

रोज 10 रुपए का दूध खरीदकर पीने वाले लोगों का क्या?

वह 10 रुपए का दूध। 5 की चीनी और 10 की दाल और 250ग्राम चावल जैसी परचेजिंग ही करते हैं। सुबह जो कमाते हैं शाम को खा लेते हैं। उन्हें किसी चीज की कमी न हो इसलिए मैं दिन रात दुकान खोल रहा हूं। मेरे परिवार वाले मुझे गालियां निकाल रहे हैं कि दुकान बंद कर दो। पत्नी और बच्चे जिद्द पर अड़े हैं। मगर मेरा मन नहीं मान रहा। अब डॉक्टरों ने कहा कि मेरे कारण मेरा परिवार भी खतरे में आ गया है। इसलिए मैं दुविधा में हूं।

Corona Flu corner Jalandhar
जालंधर के ट्रामा सेंटर में ही फ्लू कॉर्नर और आइसोलेशन वार्ड बनाया गया है। यहां नर्सिंग सिस्टर सुखजिंदर कौर, सीमा, हरप्रीत कौर, सोनिया रानी रोजाना 100 से ज्यादा मरीजों के चैकअप, रजिस्ट्रेशन में मदद कर रही हैं।
क्रमांकराज्य का नामभारतीय मरीजविदेशी मरीजठीक हुए लोगमौतें
1आंध्र प्रदेश5000
2बिहार2001
3छत्तीसगढ़1000
4दिल्ली28151
5गुजरात18001
6हरियाणा71400
7हिमाचल2000
8कर्नाटक26021
9केरल45730
10मध्यप्रदेश4000
11महाराष्ट्र64302
12ओडिशा2000
13पुडुचेरी1000
14पंजाब21001
15राजस्थान22230
16तमिलनाडु5210
17तेलंगाना111110
18चंडीगढ़5000
19जम्मू कश्मीर4000
20लद्दाख13000
21उत्तर प्रदेश26190
22उत्तराखंड3000
23बंगाल4000
 कुल मरीज (319+41=36031941247

5 thoughts on “वरिष्ठ डॉक्टर समेत अब तीन संदिग्ध मरीज आइसोलेशन में, सभी स्थिर

  • 24/03/2020 at 9:26 am
    Permalink

    Sir ji, the NRI’s comming or came already. For them make a rule if they will not come for check up or their other family members doesn’t inform police or civil hospitals then they should strictly punished for 2 or 3 years. Spread this information on TV channels so that everyone should aware and they oblige the rules.

    Regards

    Reply
    • 24/03/2020 at 10:42 am
      Permalink

      बात तो सही है। तभी तो मौत की यह चेन तोड़ी जा सकती है।

      Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *