पॉजीटिव महिला का चैकअप करने वाले डीएमसी के प्रिंसिपल, दो डॉक्टर और स्टाफ कवेरन्टीन किए गए

प्रिंसिपल की पहली टेस्ट रिपोर्ट नेगेटिव आई है

रवि रौणखर, जालंधर

लुधियाना के स्टील कारोबारी की 55 वर्षीय पत्नी संगीता जैन के चलते शहर के दर्जनों डॉक्टर, उनके परिवार कवैरन्टीन किए जा रहे हैं। फिलहाल डीएमसी के प्रिंसिपल समेत दो डॉक्टर और स्टाफ 14 दिन के लिए अपने अपने घरों में कैद हो गए हैं। संगीता जैन ने ठीक कनिका कपूर की तरह अपने ट्रैवल हिस्ट्री छिपाते हुए खूब पार्टीज कीं और न जाने कितनों को यह वायरस बांट दिया होगा। सुनने में यह भी आ रहा है कि कुछ दिन पहले एक सत्संग में भी उन्होंने माथा टेका था। संगीता के कोरोना पॉजीटिव पाए जाने के बाद उसके संपर्क में आए सभी लोगों की पहचान के बाद उन्हें कवैरन्टीन किए जाने का प्लान तैयार किया जा रहा है। इससे पहले नवांशहर के बलदेव सिंह ने ऐसा किया था। बलदेव सिंह की कोरोना से मौत हो गई थी। मगर जर्मनी से वाया इटली होते आने वाले बलदेव सिंह के संपर्क में आए एक दर्जन लोग पॉजीटिव हो चुके हैं। पंजाब के कुछ लोगों का व्यवहार सूबे को बर्बाद करने पर तुला है।

संगीता की एक नादानी के चलते डीएमसी के प्रिंसिपल डॉ. संदीप पुरी, मेडिसिन विभाग के प्रोफेसर डॉ. राजेश महाजन, डॉ. भारती महाजन और ऋषित 14 दिन के लिए कवैरन्टीन कर दिए गए हैं। दैनिक सवेरा के रिपोर्टर वरुण सग्गर की रिपोर्ट के मुताबिक संगीता जैन के पति लुधियाना की बड़ी स्टील कंपनी के मालिक हैं। रिपोर्ट कहती है कि परिवार गुरदेव नगर में रहता है और महिला के पॉजीटिव होने की खबर पुलिस और प्रशासन ने छिपाकर रखी थी। यह लुधियाना का पहला कोरोना पॉजीटिव केस है। अभी तक जिले में संदिग्ध मरीजों की गिनती 45 हो चुकी है।

संगीता जैन से बार बार पूछा था विदेश तो नहीं गई थीं, उन्होंने अपनी ट्रैवल हिस्ट्री छिपाई

spain corona
4 मार्च को स्पेन में कोरोना से मरने वालों की गिनती 1 थी। 25 मार्च शाम तक स्पेन में 3434 लोग इस बीमारी से पीड़ित हो चुके थे। जबकि चीन में अभी तक 3281 लोगों की जान कोरोना से गई है। स्पेन तेजी से मौतों के मामले में नंबर एक पर आने वाला है। पहले नंबर पर इटली है जहां 6820 लोगों की जान कोरोना ले चुका है।

कोरोना किसी का स्टेटस देखकर नहीं होता। तभी तो देश में कर्फ्यू लग चुका है। रसूकदार परिवार, बड़ा नाम और कोरोना प्रभावित देशों की सैर को छिपाना अब राष्ट्रीय अपराध जैसा प्रतीत हो रहा है। संगीता जैन पिछले दिनों स्पेन की सैर करके आई थीं। कुछ दिन पहले उनकी तबीयत खराब हुई। मगर उसके बावजूद उन्होंने अपना स्टेटस छिपाया। अब उनके पॉजीटिव आने से पूरे डीएमसी में हड़कंप मच गया है। उनका घर भी सील कर दिया गया है।

16 मार्च को डॉ. महाजन ने संगीता जैन का चैकअप किया

Dr Rajesh Mahajan
डॉ. राजेश महाजन

डीएमसी के प्रिंसिपल डॉ. संदीप पुरी ने जालंधर पोस्ट को बताया कि मरीज 16 मार्च को मेडिसिन विभाग के प्रोफेसर डॉ. राजेश महाजन के पास आया था। उन्होंने उनका चैकअप किया।

19 मार्च को मैने मरीज देखा- डॉ. पुरी

Dr Sandeep Puri DMC
डॉ. पुरी

प्रिंसिपल डॉ. पुरी ने बताया कि 19 मार्च को मरीज फिर से हमारे पास आया। इस बार मैने उनका चैकअप किया था। उनके एक्सरे और अल्ट्रासाउंड के बाद हमने टेस्ट सैंपल के लिए भेजा था। जो पॉजिटिव आ गया था। हालांकि ऐसा नहीं है कि हमने किसी तरह की कोई सुरक्षा इस्तेमाल नहीं की थी। मैने मास्क, दस्ताने पहन रखे थे। डीएमसी के डॉक्टर पिछले एक महीने से सारे प्रोटोकोल का पालन कर रहे हैं।

डॉ. पुरी, डॉ. महाजन और स्टाफ की टेस्ट रिपोर्ट नेगेटिव

डॉ. पुरी ने बताया कि हम 14 दिन के लिए कवैरन्टीन हुए हैं। 5 दिन निकल चुके हैं उस हिसाब से 14 दिन बाद मेरा दूसरा टेस्ट होगा। पहली टेस्ट रिपोर्ट नेगेटिव रही थी। उसी तरह डॉ. महाजन, डॉ. भारती और ऋषित के टेस्ट भी नेगेटिव आए हैं। अब दूसरे टेस्ट उनके 14 दिन के कवैरन्टीन होने के बाद किए जाएंगे।

फिलहाल डीएमसी के किसी भी स्टाफ की कोई भी टेस्ट रिपोर्ट पॉजीटिव नहीं आई है। सभी सुरक्षित हैं। सोशल मीडिया पर चल रही फेक न्यूज पर ध्यान न दें। डीएमसी एक बड़ा अस्पताल है और कोरोना के साथ लड़ाई में इसका बड़ा योगदान रहने वाला है।

जनवरी से अब तक 96 हजार से ज्यादा लोग विदेश यात्रा करके पंजाब में दाखिल हो चुके हैं। अभी तक हम महज 36 हजार लोगों को ही कवैरन्टीन कर पाए हैं। हालांकि कर्फ्यू लागू होने से उनकी मूवमेंट पर लगाम तो लग गई है। इसलिए घर पर रहें। 21 दिन हम बाहर नहीं निकले तो ही इस बीमारी को रोका जा सकता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *