होला मोहल्ला में जितने भी पुलिस कर्मी ड्यूटी पर थे 7 दिन के लिए कवैरन्टीन में भेजे गए

लगभग 1500 पुलिस कर्मी ड्यूटी से वापस भेजे जाएंगे

बगैर लक्षणों वाले मुलाजिमों को भी अगले 7 दिन बाहर निकलने की मनाही

रवि रौणखर, जालंधर

होला मोहल्ला में दाखिल होने वाले कितने लोगों को कोरोना था इसका अंदाजा भी सरकार के पास नहीं है। सरकार यह तो जान चुकी है कि कोरोना से जान गंवाने वाले बलदेव सिंह आनंदपुर साहिब में होने वाले होला मोहल्ला में शामिल हुए थे। उनसे वायरस कितने लोगों में गया और उनके जैसे कितने एनआरआई या विदेश से यात्रा करने वाले लोग हैं जो यह वायरस भारत लेकर आए हैं। इसलिए पंजाब पुलिस ने होला मोहल्ला में ड्यूटी करने वाले अपने जवान और अधिकारियों को नजदीकी स्वास्थ केंद्र जाकर मेडिकल करवाने के लिए कहा है। पंजाब पुलिस होला मोहल्ला में 1000 से 2000 के बीच पुलिस कर्मी तैनात करती है। ऐसे में एक कोविड-19 मरीज के होला मोहल्ला पहुंचनी की पुष्टि ने सभी पुलिस कर्मियों को प्रोटोकोल अपनाते हुए कवैरन्टीन में जाने की सलाह दी गई है। होला मोहल्ला में शामिल होने के लिए लाखों लोग आनंदपुर साहिब पहुंचते हैं। इस वक्त पंजाब सरकार बड़ी सतर्कता के साथ उस हर शख्स तक पहुंचने की कोशिश में है जो कोरोना संदिग्ध या पॉजीटिव हो सकता है। अभी भी भारत में यह वायरस स्टेज-2 में ही बना हुआ है। ठीक यही होगा कि स्टेज-3 न ही आए।

Police officers of Hola Mohalla quarantined Punjab
ट्रॉमा सेंटर में पुलिस कर्मी का चैकअप करते डॉक्टर।

रविवार को भी एंटी फ्रॉड सैल के कुछ अधिकारी और जवान सिविल अस्पताल पहुंचे और चैकअप करवाया। डॉक्टर ने पर्ची पर लिख दिया- 7 दिन के लिए किसी के संपर्क में न रहें। (Quarantine for 7 Days)। इसी तरह हर जिले के जितने भी पुलिस कर्मी होला मोहल्ला गए थे उन्हें एतिहातन कवैरन्टीन की सलाह दी गई है।

Hola Mohalla Police on duty on quarantine
होला मोहल्ला में ड्यूटी दे चुके पुलिस कर्मी से बात करती दूर बैठी नर्सिंग सिस्टर।

पंजाब में पॉजीटिव मरीजों की संख्या 21 पहुंची

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *