कोरोना के 3 पॉजीटिव केस आने के बाद ईएसआई अस्पताल ने एक दिन में तीन इंचार्ज देख लिए

इससे पहले चार डॉक्टरों को कवैरन्टीन

रवि रौणखर, जालंधर

जालंधर के ईएसआई अस्पताल ने एक ही दिन में तीन तीन इंचार्ज देख लिए। जबकि चार डॉक्टर छुट्टी पर चले गए हैं। छुट्टी को कवैरन्टीन का रूप दिया गया है। यह वक्त ही कुछ ऐसा है। पीएम मोदी ने जो बात कही उसमें सबसे अहम है आत्मविश्वास और सामाजिक दूरी। भयानक वक्त बड़े बड़ों को हिला कर रख देता है। ऐसा ही कुछ नजारा जालंधर के ईएसआई अस्पताल में देखने को मिला। जैसे ही दोपहर बाद खबर आई कि जालंधर सिविल अस्पताल में तीन कोरोना मरीज लाए जा रहे हैं तो सेहत विभाग में हलचल तेज हो गई। ऐसे में दो ही बातें होती हैं। तबादला या छुट्टी।

ईएसआई अस्पताल अब सिविल अस्पताल के मरीजों को अपने यहां भर्ती करेगा। ऐसे में अस्पताल का काम कई गुणा बढ़ने जा रहा था। मगर ऐसा क्या हुआ कि एक ही दिन में एक अस्पताल ने एक के बाद एक कुल तीन इंचार्ज देख लिए। साथ ही चार डॉक्टर भी छुट्टी चले गए।

यह फोटो बहुत कुछ कहती है

Dr Jaspreet Kaur and Dr Mukesh after Corona cases
इस फोटो में डॉ. जसप्रीत कौर अपने घर जाती दिख रही हैं। पीछे शाम के इंचार्ज डॉ. मुकेश हैं जो दो दिन की छुट्टी पर चले गए हैं। रात होते होते तीसरा इंचार्ज अस्पताल को मिल गया था।

दोपहर तक डॉ. जसप्रीत कौर इसकी मेडिकल सुपरिटेंडेंट थीं। शाम को डॉ. मुकेश बने और रात होते होते डॉ. लवलीन गर्ग इसकी नई इंचार्ज घोषित हो गईं।

Dr Jaspreet Kaur going home in Corona
अपना अस्पताल छोड़कर जातीं डॉ. जसप्रीत कौर, इनका तबादला चंडीगढ़ दफ्तर में कर दिया गया है।

क्या यह महज संयोग ही है या इसके पीछे कुछ और है। ऐसे वक्त पर तल्ख टिप्पणी शोभा भी नहीं देती। हालांकि इससे कोरोना से हमारी लड़ाई पर कोई प्रभाव नहीं पड़ेगा। ईएसआई अस्पताल को तो सिर्फ गैर कोरोना मरीज देखने का ही जिम्मा दिया गया है। इस अस्पताल ने आज तक मरीजों को निराश ही किया है। अब मौका है कि अस्पताल अपनी छवी को सुधारे और अधिक से अधिक मरीजों की सेवा करके पिछली कसर भी पूरी कर डाले।

डॉ. गर्ग बुधवार सुबह 9 बजे चार्ज संभालेंगी

Fight Corona in Punjab
पंजाब पुलिस का साथ दें। घर से न निकलें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *