आप में कलहः दर्शन भगत ने कहा जिला प्रधान अहंकार और नफरत से भरी किश्ती पर सवार, जल्द डूबेंगे

Western disturbance in AAP

आप में असंतोष: वेस्ट हल्के में डॉ. माली की दावेदारी से दर्शन भगत नाराज

डॉ. माली ने कहा कल भी दावेदार था, आज भी हूं

रवि रौणखर, जालंधर

दिल्ली चुनाव में दूसरी बार जबरदस्त जीत हासिल करने के बाद पंजाब में आम आदमी पार्टी के जहां हौंसले बुलंद हैं वहीं अब 2022 विधानसभा चुनाव के लिए दावेदारियां भी शुरू हो गई हैं। जालंधर वेस्ट हल्के में आप टिकट पर चुनाव लड़ चुके दर्शन लाल भगत ने जिला प्रधान डॉ. शिव दयाल माली पर गंभीर आरोप लगाए हैं। भगत ने फेसबुक पोस्ट के जरिए सीधे जिला प्रधान पर निशाना साधते हुए लिखा है कि “ नफरत और अहंकार की बेड़ी पर सवार लोग ज्यादा दूर नहीं जा सकते। जल्दी डूब जाते हैं। यही काम जालंधर के शहरी प्रधान कर रहे हैं। जरा संभल जाओ”। भाजपा से आप में आए दर्शन भगत वेस्ट हल्के में पार्षद रह चुके हैं। पार्टी ने उन्हें 2017 के विधानसभा चुनाव में टिकट दिया था। वह कांग्रेस के उम्मीदवार सुशील कुमार रिंकू से चुनाव हार गए थे। अब भगत का आरोप है कि डॉ. माली जहां एक तरफ खुद को वेस्ट हल्के के उम्मीदवार के तौर पर पेश कर रहे हैं वहीं दूसरी ओर मुझे और मेरे साथी पार्टी कार्यकर्ताओं को पार्टी हाईकमान से आने वाली हर सूचना से वंचित कर रहे हैं। भगत का कहना है कि अभी पार्टी ने कोई भी उम्मीदवार डिक्लेयर नहीं किया है। ऐसे में लगातार वेस्ट हल्के में अपने आप को जगह जगह यह कहना कि टिकट तो मेरी जेब में है पार्टी वर्कर्स को नाराज कर रहा है। डॉ. माली पार्टी की लुटिया डूबोने का काम कर रहे हैं। हम पार्टी के पंजाब प्रभारी जरनैल सिंह से इसकी शिकायत करेंगे।
वहीं डॉ. माली का कहना है कि सारे आरोप बेबुनियाद हैं। मैं कल भी दावेदार था और मैं आज भी दावेदार हूं। पार्टी का कोई भी वर्कर किसी भी सीट के लिए दावा कर सकता है। यह कोई नई बात नहीं है। हमारा ध्यान तो सिर्फ लोगों को जोड़ने और जालंधर में पार्टी को मजबूत बनाने में लगा हुआ है।

2017 चुनाव में आपसी कलह के कारण भी आप ने कई सीटें गंवाई थीं।

भगत ने 5 मार्च को ही यह मैसेज क्यों किया?

DARSHAN BHAGAT FACEBOOK POST
दर्शन भगत ने 5 मार्च को यह पोस्ट शेयर की। इसमें वह डॉ. माली पर सीधा हमला कर रहे हैं। आने वाले समय में जालंधर वेस्ट हल्के में वर्चस्व की यह लड़ाई और तेज होती जाएगी।

दर्शन भगत ने बताया कि वीरवार की सुबह मुझे पार्टी वर्कर ने बताया कि आपके घर से महज 200 मीटर दूर डॉ. माली ने मेंबरशिप अभियान चलाया है। आप नहीं जा रहे क्या? मैं हैरान था कि मेरे घर के बगल में टेंट और पोस्टर लगाकर वह सदस्यता अभियान चला रहे हैं लेकिन मुझे उन्होंने सूचना तक नहीं दी। मुझे गढ़ा में एक संस्कार में जाना था। मैं वहां लगभग डेढ़ घंटा डॉ. माली के साथ ही था। शोक का समय था इसलिए मैने उनसे नहीं पूछा कि आप मेरे घर के पास मेंबरशिप ड्राइव चला रहे थे लेकिन मुझे शामिल भी करना मुनासिफ नहीं समझा। खैर, हम वहां से चले आए। थोड़ी देर बाद जो बात मुझे पता चली उसने मेरे विरोध को बिलकुल सही साबित कर दिया।

पंजाब प्रभारी से मिलने चले गए लेकिन हमें नहीं बताया

SD MALI AT KHATKAR KALAN
खटकड़ कलां में पहुंचे डॉ. माली व उनके साथ जालंधर से गए इंदरवंश सिंह, विकास ग्रोवर व अन्य।

पंजाब प्रभारी जरनैल सिंह राज्य के दौरे पर आए हुए थे। डेढ़ घंटा हम साथ रहे लेकिन डॉ. माली ने मुझे नहीं बताया कि वह जरनैल सिंह से मिलने के लिए खटकड़ कलां जा रहे हैं। उनके मन में चोर है तभी तो हमसे जानकारियां छिपाई जा रही हैं। इससे पहले भी पार्टी ने चंडीगढ़ में उन्हें इस तरह के व्यवहार के लिए चेतावनी दी थी।

DARSHAN BHAGAT AT KHATKAR KALAN
जैसे ही दर्शन भगत को पता चला कि डॉ. माली खटकड़ कलां गए हैं तो वह भी उनके पीछे पीछे वहां पहुंच गए मगर तबतक जरनैल सिंह दिल्ली के लिए रवाना हो चुके थे।

चंडीगढ़ में पार्टी हाईकमान ने साफ साफ कहा था, कोई उम्मीदवारी का दावा नहीं ठोकेगा

भगत ने बताया कि 24 फरवरी को चंडीगढ़ में पार्टी की स्टेट लेवल मीटिंग थी। जालंधर के पार्टी वर्कर पहले ही डॉ. माली की शिकायत कर चुके थे कि वह जालंधर वेस्ट हल्के के उम्मीदवार होने का दावा ठोक रहे हैं। ऐसे में पार्टी आलाकमान ने उन्हें हिदायत और चेतावनी दी थी कि कोई भी नेता अभी से खुद को किसी भी हल्के के उम्मीदवार के तौर पर प्रस्तुत नहीं करेगा। पार्टी की टीम हर हल्के में जाएगी। सर्वे किया जाएगा। उसके बाद योग्य उम्मीदवार के नाम की घोषणा की जाएगी। मगर डॉ. माली ने उस हिदायत को दरकिनार करते हुए कोई सबक नहीं लिया।

डॉ. माली कहते हैं वेस्ट हल्के की टिकट तो मेरी जेब में है- भगत

दर्शन भगत ने डॉ. माली पर आरोप लगाते हुए कहा कि वह जालंधर में जगह जगह कह रहे हैं कि जालंधर वेस्ट हल्के की टिकट तो मेरी जेब में है। मुझे लगातार वर्कर कह रहे हैं कि डॉ. माली का इस तरह से टिकट पर दावा करना कई कार्यकर्ताओं को नाराज कर रहा है। पार्टी जब साफ साफ कह चुकी है कि टिकट का फैसला पूरी जांच-पड़ताल के बाद होगा तो डॉ. माली किस हैसलियत से ऐसे दावे ठोक रहे हैं।

सिर्फ कागजों पर प्रधान रहकर राजनीति नहीं होती, जमीन पर उतरना पड़ता है- भगत

DARSHAN BHAGAT AT DELHI
दिल्ली चुनाव में प्रचार करने दिल्ली के तिलक नगर में दर्शन लाल भगत व अन्य।
AAP in jalandhar
भगत का दावा है कि डॉ. माली फील्ड में नहीं उतरते। मगर डॉ. माली कह रहे हैं कि उन्हें अच्छी खासी स्पोर्ट मिल रही है। पार्टी की ओर से लंगर में सेवा करते डॉ. माली।

भगत ने कहा कि डॉ. माली जहां भी जाते हैं दो तीन लोग ही उनके साथ होते हैं। पिछले दिनों हमारी मीटिंग भी हुई थी और यह तय हुआ था कि शहर में पार्टी के वरिष्ठ नेता एक साथ संगठन मजबूत करने के लिए काम करेंगे। मगर उन्होंने तो हमें अपने सोशल मीडिया ग्रुप में भी ऐड करना जरूरी नहीं समझा। प्रधान एक बड़ा पद होता है। सिर्फ कागजों पर प्रधान बनने से कोई प्रधान नहीं बनता। इसके लिए जमीन पर उतरना पड़ता है। डॉ. माली तो पहले खैहरा ग्रुप के साथ थे। पार्टी की हार के बाद कुछ समय इस्तिफा देकर बाहर रहे। अब फिर से जब पार्टी ने दिल्ली में जीत हासिल की है तो खुद को वेस्ट का दावेदार पेश कर रहे हैं।

2017 में पार्टी विरोधी काम किए थे, मेरे खिलाफ प्रेस कांफ्रेंस भी की

भगत ने आरोप लगाया कि 2017 में वेस्ट हल्के में मुझे पार्टी ने टिकट दिया था। डॉ. माली ने भी टिकट के लिए अप्लाई किया था। टिकट न मिलने के बाद उन्होंने पार्टी विरोधी काम करने शुरू कर दिए थे। सबसे पहले मेरे खिलाफ एक प्रेस कांफ्रेंस की। उसके बाद वेस्ट हल्के के भाजपा उम्मीदवार महिंदर भगत के एक एनआरआई दोस्त के साथ स्पोर्ट्स कालेज के सामने कमल के फूल के साथ एनआरआई दोस्त के साथ लोगों को बीजेपी को वोट देने के लिए प्रचार किया था। हम तो डॉ. माली की मंछा शुरू से जानते थे। यह फिर से पार्टी को कमजोर करने के लिए काम कर रहे हैं। पार्टी पंजाब में ताकतवर स्थिति में है। ऐसे काम करके पार्टी विरोधी काम किए जा रहे हैं।

मैं फेसबुक इस्तेमाल नहीं करता, दावेदार होना बुरी बात नहीं- डॉ. माली

Dr SD mali jalandhar west
डॉ. माली ने हालांकि दावा किया कि वह फेसबुक इस्तेमाल नहीं करते लेकिन उनका पेज लगातार अपडेट रहता है। शायद यही वह पोस्ट है जिससे दर्शन भगत नाराज हैं। इसमें एक कार्यकर्ता ने डॉ. माली को अगला एमएलए बताते हुए अपनी खुशी जाहिर की है।

राजनीति में आने से पहले डॉ. माली पंजाब सेहत विभाग में एसएमओ थे। उन्होंने आप से जुड़ने के लिए सरकारी नौकरी छोड़ दी थी। पार्टी ने टिकट नहीं दिया। वह नाराज भी हुए लेकिन पार्टी से जुड़े रहे। अब वह पार्टी के जिला प्रधान हैं। उनसे बात हुई तो वह बोले सारे आरोप बेबुनियाद हैं। दावेदार होना बुरी बात नहीं है। नीचे पढ़ें डॉ. माली सभी आरोपों पर क्या बोलेः

AAP JALANDHAR TEAM

” मैं कल भी वेस्ट हल्के का दावेदार था और मैं आज भी दावेदार हूं। आम आदमी पार्टी में यही तो खूबसूरती है कि कोई भी आम वर्कर चुनाव लड़ने के लिए अपनी दावेदारी पेश कर सकता है। मैने 2017 में भी जालंधर वेस्ट हल्के की टिकट के लिए अप्लाई किया था। तब टिकट नहीं मिली थी। मैने पार्टी में नाराजगी भी जाहिर की थी। वह मेरा अधिकार भी है। दावेदार होना कोई गलत बात नहीं है। टिकट मिलना या न मिलना वह तो पार्टी ही तय करेगी। टिकट उम्मीदवार की योग्यता और जीतने की क्षमता पर निर्भर करती है। अभी तक दर्शन भगत के आरोपों की जानकारी मुझे नहीं है लेकिन मैने अगर 2017 में बीजेपी के लिए प्रचार किया था तो उसका वह सबूत पेश करें। मैने कभी भी पार्टी से इस्तिफा नहीं दिया था। यह भी झूठ है कि मैने कोई प्रेस कांफ्रेंस की थी। उस दौर में बहुत सारे असंतुष्ट वर्कर पार्टी हाईकमान में नाराजगी जता चुके हैं। मगर हम उस दौर से आगे बढ़ आए हैं। अब तो पार्टी को पंजाब में मजबूत करने पर काम हो रहा है। मेरा उनसे कोई भी मनमुटाव नहीं है। हम पूरे जिले में सदस्यता अभियान (राष्ट्रीय निर्माण अभियान) चला रहे हैं। 23 दिन के इस अभियान में 9871010101 पर लोगों से कॉल करवाए जा रहे हैं ताकि उन्हें पार्टी से सीधे जोड़ा जाए।

पहले भाजपा में थे दर्शन भगत

DARSHAN BHAGAT IN BJP
दर्शन लाल भगत की पुरानी फोटो भारतीय जनता पार्टी पंजाब के पूर्व अध्यक्ष बृजलाल रिणवा, अविनाश जयसवाल, विनोद शर्मा

विधानसभा चुनाव में तीसरे नंबर पर रहे थे दर्शन भगत

क्र.उम्मीदवार का नामपार्टीवोट
1सुशील कुमार रिंकूकांग्रेस53,983
2महिंदर पाल भगतबीजेपी36,649
3दर्शन लाल भगतआप15,364
4सुरिंदर महेआजाद1,345
5नोटाNone Of The Above1,155
6परमजीत मलबीएसपी1,099
7सुभाष गोरियाशिवसेना760
8जुगल किशोरअपना पंजाब पार्टी239

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *